Wednesday, July 14, 2010

"इंतजार "

आँखों में इंतजार भरा है ,
खुदा करे वो आ जाये |
कुछ मुद्दतें ख्वाब है ,
उन्हें इसकी खबर हो जाये ||

गुजरे गया वक्त ,
भर गया हर गम ,
इस गम हो कुरेद कर ,
जख्म का दर्द दे जाये |
कुछ मुद्दतें ख्वाब है ,
उन्हें इसकी खबर हो जाये ||

राह तकते है जेठ की धूप में ,
गर्म हवाओं में एक उनका नाम आ जाये |
भरी धूप में दिल रोता कर याद उनको ,
ऐसी धूप में गर उनका दीदार हो जाये |
कुछ मुद्दतें ख्वाब है ,
उन्हें इसकी खबर हो जाये ||

मन्नते करते है साथ जियेंगे ,
खुदा को इस बात की खबर हो जाये |
रोते हैं हर रात जिन्हें याद करके ,
उन्हें भी हमारे प्यार की नजर लग जाये |
कुछ मुद्दतें ख्वाब है ,
उन्हें इसकी खबर हो जाये ||